तीर्थन घाटी में योगा से होगा कोरोना वायरस पर करारा प्रहार। #news4
June 19th, 2021 | Post by :- | 72 Views

तीर्थन घाटी में योगा से होगा कोरोना वायरस पर करारा प्रहार।

हर वर्ष की भान्ति मनाया जाएगा विश्व योग दिवस, अभ्यास सत्र शुरू, 21 जून को होगा समापन।

ग्राम पंचायत कंडीधार और सरची की कोरोना टास्क फोर्स करेगी आयोजन, लोगों को कर रहे है जागरूक।

विश्व योगा दिवस को लेकर स्थानीय युवाओं में भारी उत्साह, पर्यटक भी लेंगे हिस्सा।

तीर्थन घाटी गुशैनी बंजार(परस राम भारती):-हिमाचल प्रदेश जिला कुल्लु की तीर्थन घाटी स्वच्छ आवोहवा और प्राकृतिक सौन्दर्य के लिए देश दुनिया में बिख्यात हो रही है। कोरोना जैसी महामारी भी यहां अपने पांव पसारने में विफल रही जो पिछले दो सालों से केवल नाममात्र मामले ही कोरोना के यहां दर्ज किए गए है। यहां की स्वच्छ हवा, प्राकृतिक स्त्रोतों से निकलता शुद्घ पेयजल, रसायन मुक्त खाद्यान और कड़ा श्रम ही यहाँ के लोगों की सेहत का राज है। प्राचीन काल से ही यहां के अधिकतर लोग अपने खेतों, बागानों, जंगलों और चारागाहों में कड़ी मेहनत करकेे अपनी आजीविका कमाते आ रहे हैं जो यही कड़ा श्रम ही इन्हें तंदरुस्त बनाए रखता है।

आधुनिकता के इस दौर में लोग अपने आप को फिट रखने के लिए कई प्रकार के शारीरिक व्यायाम करते आ रहे है जिसमें कुछ वर्षों से योगा अभ्यास की तरफ भी लोगों का काफी रुझान देखने को मिल रहा है।
पिछले तीन वर्षों से तीर्थन घाटी के युवाओं ने भी योगा में अपनी अच्छी दिलचस्पी दिखाई है और हर वर्ष की भान्ति इस साल भी 21 जून को विश्व योगा दिवस का आयोजन किया जा रहा है।

 

स्थानीय युवा एवं योगा ट्रैनर गोविन्द ठाकुर ने जानकारी देते हुए बतलाया कि गत सप्ताह से ही तीर्थन घाटी के नागनी खेल मैदान में योगा का अभ्यास सत्र शुरू हो चुका है जिसमें स्थानीय लोगों के अलावा यहां पर घूमने फिरने आए हुए पर्यटक भी हिस्सा ले रहे है। इस अभ्यास सत्र में प्रशिक्षकों द्वारा घाटी के युवाओं, युवतियों, अधेड़ और अन्य किसी भी इच्छुक व्यक्ति को योगा के विभिन्न आसनों की प्रैक्टिस करवाई जा रही है। यह पूर्वाभ्यास सत्र नागणी के खेल मैदान में हर रोज शाम के समय शुरू होता है जो 20 जून तक चलेगा और 21 जून को प्रातः यहां पर विश्व योगा दिवस का आयोजन किया जाएगा।

स्थानीय ग्राम पंचायत कंडीधार के उपप्रधान मोहिंद्र सिंह का कहना है कि इस बार भी कोरोना काल के दौरान नियमों को ध्यान में रखते हुए विश्व योग दिवस 2021 का आयोजन किया जा रहा है। इसके लिए पंचायत में गठित कोरोना टास्क फोर्स की क्षमता निर्माण के तहत स्थानीय लोगों और पर्यटकों के बीच जागरूकता फैलाई जा रही है। टॉस्क फोर्स के सदस्य घर घर जाकर लोगों को कोरोना महामारी से बचाव के प्रति जागरूक कर रहे है और जरूरतमन्दों की ऑक्सीमेटर से जांच भी की जा रही है।
इन्होंने बतलाया कि इस बार विश्व योग दिवस के अवसर पर स्थानीय लोगों के अलावा, विभिन्न विभागों के कर्मचारी और तीर्थन घाटी मे आए हुए पर्यटक भी हिस्सा ले रहे है जो इस बारे कोरोना टास्क फोर्स के माध्यम से इसका प्रचार किया जा रहा है और इसके लिए ग्राम पंचायत योग तथा आयुर्वेद के संसाधन व्यक्ति का प्रबंधन भी करेगी ।

तीर्थन संरक्षण एवं पर्यटन विकास एसोसिएशन के उपाध्यक्ष अमन नेगी ने बताया कि 21 जून को प्रातः 6:00 बजे तीर्थन घाटी के नागनी खेल मैदान में विश्व योगा दिवस का आयोजन किया जा रहा है जिसमें स्थानीय ग्राम पंचायतों के साथ संघ भी अपना योगदान देगा। इन्होंने बतलाया कि इस बार हिमाचल प्रदेश विश्व विद्यालय से प्रशिक्षित वरिष्ठ एवं अनुभवी योगा ट्रैनर नीरज ठाकुर लोगों को प्राणायाम और षटकर्मों के माध्यम से कोविड वायरस से बचाव के लिए योग आधारित उपाय बताएंगे कि कैसे योग आसनों द्वारा शरीर में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाई जा सकती है।

स्थानीय लोगों मोहित काशता, पीयूष, रोहित, शुभम, प्लवी, पूजा, सोनिया, इंदु काश्ता, निर्मल, जतिन और डोला गुलेरिया आदि का कहना है कि इस आयोजन को लेकर यहां के लोगों में भारी उत्साह देखने को मिल रहा है और ये रोजाना शाम को अभ्यास सत्र में खूब पसीना वहा रहे हैं। इनका कहना है कि तीर्थन घाटी में कोरोना वायरस को फटकने भी नहीं देंगे और योगा अभ्यास द्वारा इस महामारी को मात देंगे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।