Himachal के इस जिला में शादियों- समारोहों में बिन बुलाए पहुंचेगी Police और प्रशासन, जाने क्यों ..
November 23rd, 2020 | Post by :- | 112 Views

हमीरपुर। प्रदेश में बढ़ रहे कोरोना मामलों (Corona Case) को देखते हुए हमीरपुर (Hamirpur) जिला प्रशासन ने इससे निपटने को कमर कसते हुए रणनीति तैयार कर ली है। अब शादी समारोहों सहित अन्य कार्यक्रमों में अनवांछित भीड़ जमा नहीं होगी। समारोहों में निर्धारित मापदंडों के अनुसार तय संख्या से अधिक लोग पाए गए तो कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। पुलिस के साथ प्रशासनिक अधिकारी (Police and Administrative Officer) कभी भी दबिश दे सकते हैं। अब समारोहों में लोगों को बुलाने के लिए प्रशासन की अनुमति लेनी होगी, अगर कोई भी नियमों का उल्लंघन करता पाया जाता है तो उस पर प्रशासन सख्त कार्रवाई करेगा। बाकायदा जिला प्रशासन के द्वारा सभी एसडीएम (SDM) को जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं जोकि अब सभी समारोह पर पैनी नजर रखेंगे।

बता दे कि तेज रफ्तार से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामलों को लेकर हमीरपुर जिला प्रशासन ने (Hamirpur District Administration) यह फैसला लिया है। इसके लिए उपमंडल अधिकारियों को भी निर्देश जारी कर दिए गए हैं। जारी निर्देशों में कहा गया है कि समारोहों में पहुंचने वाले लोगों की संख्या का पता लगाया जाए। यदि एसओपी (SOP) के अनुसार कार्यक्रम नहीं हो रहा, तो कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाए। इसके साथ ही नियमों की अवहेलना करने वालों के साथ सख्ती से निपटा जाए। त्वरित प्रभाव से निरीक्षण के लिए उपमंडल स्तर पर टीमें गठित की जाएं। गठित की जाने वाली टीमें समारोह स्थलों में पहुंचकर स्थिति का जायजा लेंगे।

शादियों में बुलाए जाएंगे 50 प्रतिशत लोग

हमीरपुर एसडीएम डॉ. चिरंजी लाल चौहान ने कहा कि कोरोना के केसों में कुछ दिनों से ज्यादा इजाफा हो रहा है। उन्होंने कहा कि प्रशासन कि तरफ से निर्देश जारी कर दिए हैं। शादी समारोह में लोगों की भीड़ ज्यादा उमड़ रही है। ऐसे में अब पुलिस की मदद से समारोह स्थलों का निरिक्षण किया जाएगा ताकि उनका उल्लंघन ना हो। उन्होंने कहा कि शादियों (शarriage) में अब 50 प्रतिशत लोग ही बुलाए जाएंगें और साथ ही अब समारोहों में लोगों को बुलाने के लिए प्रशासन की अनुमति लेनी होगी, अगर कोई भी नियमों का उल्लंघन करता पाया जाता है, तो उस पर प्रशासन सख्त कार्रवाई करेगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।