कौन से खाद्य पदार्थ चिकनगुनिया को रोकने में मदद करते हैं #news4
August 21st, 2021 | Post by :- | 182 Views

Prevent chikungunya: चिकनगुनिया एक बहुत ही आम समस्या है और ज्यादातर मानसून के मौसम में होती है। यह एक वायरल संक्रमण है जो व्यक्ति से व्यक्ति में पारित होता है और यह मच्छरों के काटने से होता है। चिकनगुनिया के लक्षण मच्छरों के काटने के 3-7 दिन के बाद दिखने शुरू होते हैं। चिकनगुनिया के प्रमुख लक्षण बुखार और ज्वाइंट पेन होते हैं। लेकिन कुछ लोगों को सिरदर्द, मिचली, रैश और थकावट जैसे लक्षणों का भी सामना करना पड़ता है। यदि आप चिकनगुनिया के प्रकोप के दौरान इन लक्षणों को महसूस करते हैं तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। इसके अलावा, कुछ खाद्य पदार्थ हैं, जो चिकनगुनिया को रोकने में मदद करते हैं। आपको इन खाद्य पदार्थों से अवगत होना चाहिए जो चिकनगुनिया को रोकने में मदद करते हैं।

Prevent chikungunya: खाद्य पदार्थ जिनका सेवन चिकनगुनिया के दौरान करना चाहिए

  • पत्तेदार सब्जियां
  • सेब और केला
  • विटामिन-सी और ई युक्त खाद्य पदार्थ
  • तरल खाद्य पदार्थ
  • ओमेगा-3 फैटी एसिड्स

पत्तेदार सब्जियां:

पत्तेदार सब्जियां चिकनगुनिया को रोकने के लिए सबसे अच्छे खाद्य पदार्थों में से एक हैं। इन सब्जियों में कम कैलोरी होती है और आसानी से पच जाते हैं। अपने आहार में पत्तेदार सब्जियों को शामिल करें। यह चिकनगुनिया को रोक देगा और समग्र स्वास्थ्य में भी सुधार करेगा।

सेब और केला:
चिकनगुनिया से ठीक होने पर तरबूज और संतरे जैसे खट्टे फलों से बचना अनिवार्य है। सेब और केला जैसे फलों का सेवन करें। सेब फाइबर का अच्छा स्रोत है, जो आपके पाचन तंत्र को साफ करता है और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करता है।

विटामिन-सी और ई युक्त खाद्य पदार्थ:
विटामिन-सी का सेवन मांसपेशियों, हड्डियों और रक्त वाहिकाओं के गठन में मदद करता है। विटामिन ई अच्छे स्वास्थ्य, स्वस्थ त्वचा को बढ़ावा देता है और दिल के दौरे को रोकता है। विटामिन सी और विटामिन ई की पर्याप्त मात्रा में उपभोग करने से चिकनगुनिया कम हो जाता है। बेहतर परिणामों के लिए, अमरूद, कीवी और स्ट्रॉबेरी का उपभोग करें।

तरल खाद्य पदार्थ:
तरल पदार्थ आधारित खाद्य पदार्थ प्रभावी ढंग से चिकनगुनिया से ठीक होने में मदद करते हैं। बेहतर परिणामों के लिए, आप सूप, दाल और ग्रेवीज का उपभोग कर सकते हैं। सेम, लीन मीट या मछली से बना सूप का सेवन करना लाभकारी होता है।

ओमेगा-3 फैटी एसिड्स:
चिकनगुनिया से ठीक होने के लिए, ओमेगा 3 फैटी एसिड समृद्ध खाद्य पदार्थ और सप्लीमेंट्स का सेवन किया जाना चाहिए। ओमेगा 3 फैटी एसिड ब्लड क्लॉट को कम करता है और मस्तिष्क के कार्यों में भी सुधार करता है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।