बीड़ बिलिंग में फिर लौटने लगी रंगत, पर्यटकों की आवाजाही शुरू #news4
June 17th, 2021 | Post by :- | 210 Views

बैजनाथ : बीड़ बिलिंग घाटी में एक बार फिर रौनक लौटने लगी है। दो दिन से घाटी में पैराग्लाइडिंग का दौर एक बार फिर शुरू हो गया है। साथ ही हिमाचल में पर्यटकों की आवाजाही के साथ ही इस घाटी में भी काफी पर्यटक पहुंचने लगे हैं।

हालांकि अभी यहां वैसी रौनक नहीं है जैसी हर साल जून माह में होती थी। लेकिन कोरोना के कारण बने हालातों के बीच सरकार द्वारा अभी पाबंदी हटाने से यहां के पर्यटन व्यवसायियों को उम्मीद जगी है। बीड़ बिलिंग घाटी पैराग्लाइडिंग के साथ-साथ कई एडवेंचर गतिविधियों का भी मुख्य केंद्र है। यहां कई होटल तथा कैंपिंग साइट है। ‌ मार्च माह के बाद से यहां लगातार काम बंद चल रहा था। अब धीरे-धीरे पर्यटन गतिविधियां यहां जोर पकड़ने लगी हैं। पर्यटन व्यवसायियों का कहना है कि जैसे ही सरकार बाहरी राज्यों से आने वाली बसों को हरी झंडी देती है। वैसे ही यहां पर कारोबार में भी बढ़ोतरी होगी। दिल्ली से काफी वोल्वो तथा अन्य लग्जरी बसें बीड़ पर्यटकों को लेकर आती हैं।

पैराग्लाइडिंग के दाम

बीड़ बिलिंग घाटी में पर्यटक पैराग्लाइडिंग का आनंद ले सकते हैं। यहां एक प्रशिक्षित पायलट द्वारा पर्यटकों को टेंडम उड़ान करवाई जाती है। इसकी अवधि 20 मिनट से लेकर 45 मिनट तक रहती है। इसके लिए यहां पर 15 सौ से लेकर 25 सौ रुपये एक पर्यटक से लिए जाते हैं। इसमें पर्यटकों को ट्रांसपोर्ट से लेकर गोप्रो कैमरे की सुविधा भी दी जाती है।

क्या कहते हैं पर्यटन कारोबारी

यहां कि स्‍थानीय निवासी ज्‍योति का कहना है कि जून माह में हर साल यहां पर्यटकों की काफी भीड़ हुआ करती थी। कोविड के कारण भीड़ में कमी तो आईं है। लेकिन हालात सुधरने लगे हैं।

बीड़ निवासी अरविंदपाल का कहना है कि सरकार द्वारा कुछ छूट देने के बाद यहां भी पर्यटकों की आवाजाही शुरू हुई है। पर्यटकों के बिना काफी लोगों की आर्थिक स्थिति प्रभावित हो रही थी। उम्मीद है जल्द सब ठीक होगा।

सुपरवाइजर रणविजय का कहना है कि पर्यटन गतिविधियां शुरू होने के साथ यहां कोविड एसओपी का भी पूरा ध्यान रखा जा रहा है। सभी पायलटों को कहा गया है कि मास्क व सैनिटाइजर का प्रयोग करें।‌

राजवंश फिल्म्स बीड़  के एमडी का कहना है कि बीड़ बिलिंग घाटी में काफी समय के बाद रौनक लौटी है। पहले की तरह हर तरफ पर्यटक तक नजर आने लगे हैं। उम्मीद है जल्द सब ठीक हो जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।