डमटाल के ठाकुर राम गोपाल मन्दिर के खैर के पेड़ों पर चली कुल्हाड़ी
October 27th, 2020 | Post by :- | 169 Views

इंदौरा, रमन कुमार

डमटाल के ठाकुर राम गोपाल मन्दिर के खैर के पेड़ों पर चली कुल्हाड़ी

उपमंडल इंदौरा के अंतर्गत आते ठाकुर राम गोपाल मंदिर डमटाल के जंगल से खैरौ के अवैध कटान का गोरख धंधा थामने का नाम नहीं ले रहा है ठाकुर राम गोपाल मन्दिर की भूमी पर काफी समय से लाखो रुपए के खैर के पेड़ वन माफिया काट ले गया ओर प्रशासन हाथ मलता रह गया बीती रात को 15 खैर के पेडो को खैर माफिया काट कर ले गया है। मन्दिर प्रशासन कुंभकर्णी नीद सोया रहा पहले भी सैकडो खैर के पेड़ कट चुके है पर मन्दिर प्रशासन हर बार की तरह अपना पला जाड लेता है बड़ी हैरानी की बात यह है यंहा पर 15 खैर के पेड कटे है वहां से पुलिस थाना ओर मन्दिर प्रशासन का ऑफीस 2 कि .मी दूरी पर है पर आज तक पुलिस ओर मन्दिर प्रशासन किसी भी खैर चोर को नही पकड़ पाये है। बड़ी हैरानी कि बात है खैर चोरो के हौसले इतने बुलंद है कि उन्हें किसी का डर नहीं है हकीकत यह है कि जितनी वारदातें हुई है यह सब योजनापूर्ण थी ना ही पुलिस किसी को पकड़ पाई है ना ही मन्दिर प्रशासन कोई कठोर करवाही आज तक कर पाया है। लगातार कुछ वर्षों से खैरौ के कटने के बावजूद भी मन्दिर कि भूमि से अवैध खैर कटान का गोरख धंधे को रोकने पर पुलिस व मन्दिर प्रशासन असफल रहे है । अवैध खैर कटान के बारे में जब मंदिर गार्ड शमशेर सिंह से बात की गई तो उन्होंने बताया कुछ दिन पहले 9 खैर के पेड़ काटे गए थे किन की शिकायत पुलिस थाना डमटाल में दर्ज करवा दी गई थी पिछली रात 6 खैर के पेड़ और काटे गए हैं जिनकी शिकायत पुलिस थाना डमटाल में दर्ज करवा दी जाएगी । ठाकुर राम गोपाल मन्दिर अधिकारी एस डी एम इंदौरा सोमिल गोतम ने बताया कि मंदिर भूमि से खैर कटने का मामला मेरे ध्यान में आया है।इस मामले के संदर्भ में उच्च अधिकारियों को बता दिया गया है और जो भी उचित कार्रवाई होगी इनके खिलाफ की जाएगी।जिलाधीश कांगड़ा राकेश प्रजापति से जब इस विषय पर बात की गई तो उन्होंने कहा कि आप के माध्यम से यह मामला मेरे ध्यान में आया है इसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।