देहरा में हर्षोल्लास से मनाया गया उपमंडल स्तरीय हिमाचल दिवस कार्यक्रम
April 15th, 2021 | Post by :- | 234 Views

देहरा में हर्षोल्लास से मनाया गया उपमंडल स्तरीय हिमाचल दिवस कार्यक्रम
देहरा, हिमाचल प्रदेश के स्वर्ण जयन्ती वर्ष में आज हिमाचल दिवस का उपमंडल स्तरीय कार्यक्रम लघु सचिवालय देहरा के प्रांगण में हर्षोल्लास से मनाया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए एसडीएम देहरा धनबीर ठाकुर ने राष्ट्रधवज को फेहराते हुए, पुलिस की सलामी ली। उन्होंने लोगों के नाम अपना संदेश देते हुए हिमाचल दिवस पर सरकार द्वारा प्रेषित प्रतिज्ञा भी दिलाई। उन्होंने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि यूं तो हमारा राष्ट्र और हिमालयी राज्य का अस्तित्व सदियों पुराना है। लेकिन अंग्रेजों से स्वतंत्रता प्राप्त करने के पश्चात हमने भारतीय गणराज्य की जिस नई व्यवस्था को अपनाया, उसके तहत 25 जनवरी 1971 को हमारा राज्य पूर्ण राज्यत्व का दर्जा प्राप्त कर भारतीय गणतंत्र का 18वां राज्य बना। वहीं आज आज के दिन 15 अप्रैल 1948 को हिमाचल प्रदेश का गठन किया गया, जिसके कारण इस दिन को हम हर वर्ष हिमाचल दिवस के रूप में मनाते हैं।
उन्होंने कहा कि हिमाचल के परिश्रमी लोगों और इमानदार संस्थानों के सतत प्रयासों से ही आज हम देश भर में एक विकसित राज्य के रूप में उभरे हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना के संकट और बंधनों के कारण हमें यह कार्यक्रम सीमित स्तर पर करना पड़ रहा है, लेकिन हमारा जोश और उत्साह असीमित है। इस अवसर पर राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला (कन्या) देहरा, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला (छात्र) देहरा, डीएवी स्कूल देहरा एवं आईसीडीएस परागपुर की आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए। सरकार द्वारा निर्धारित कोविड दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए पूर्ण उत्साह के साथ देहरा में हिमाचल दिवस मनाया गया।
इस अवसर पर बीडीओ देहरा डाॅ. स्वाती गुप्ता, नगर परिषद् अध्यक्षा सुनिता कुमारी, उपाध्यक्ष मलकीयत परमार, नायब तहसीलदार जस्वां सुशाील कुमार, बाल विकास परियोजना अधिकारी परागपुर जीत सिंह, विभिन्न शिक्षण संस्थानों से आए शिक्षक एवं विद्यार्थी, विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।