वैज्ञानिकों ने कोरोना संक्रमित कोशिकाओं की उतारी फोटो, अब संक्रमण को समझने में मिलेगी आसानी – News 4
September 13th, 2020 | Post by :- | 142 Views

कोरोना से संक्रमित होने पर कोशिकाएं कैसी दिखती हैं, इसकी तस्वीर शोधकर्ताओंने जारी की है। कैमिली एहरे सहित यूनिवर्सिटी ऑफ नार्थ कैरोलिना चिल्ड्रेन रिसर्च इंस्टीट्यूट के शोधकर्ताओं के मुताबिक ये तस्वीरें सांस नली में संक्रमण की है। सांस की नली में कोरोना का संक्रमण कैसे बढ़ता है, इन चित्रों से आसानी से समझा जा सकता है। तस्वीरों में सांस की नली में बड़ी संख्या में वायरस कण दिखाई पड़ते हैं, जो ऊतकों और अन्य लोगों में संक्रमण फैलाने को तैयार हैं।

ये तस्वीरें न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन में प्रकाशित हुई हैं। शोध के तहत विज्ञानियों ने इंसान की ब्रॉन्कियल एपीथीलियल कोशिकाओं में कोरोना को इंजेक्ट करने के बाद 96 घंटों तक उस पर नजर रखी और फिर इसे इलेक्ट्रॉन माइक्रोस्कोप से देखा गया।

तस्वीरों में रंगों को शामिल करके वायरस की सही तस्वीर दिखाने की कोशिश की गई। तस्वीर में नीले रंग में दिखने वाली बालों के आकार वाली लंबी संरचनाओं को सीलिया कहते हैं। इसके माध्यम से ही फेफड़ों से म्यूकस को बाहर निकाला जाता है।

शोधकर्ताओं के मुताबिक ऐसी तस्वीरों से वायरल लोड को समझने में आसानी होगी। साथ ही अलग-अलग जगहों पर वायरस संक्रमण कैसे और कितना होता है, यह समझा जा सकता है।

विश्वभर में कम नहीं हो रहा है कोरोना का संक्रमण

दुनियाभर में कोरोना वायरस संक्रमित मामलों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है। वैश्विक कॉरोना वायरस मामलों की कुल संख्या दो करोड़ो 86 लाख (28.6 मिलियन) से ऊपर चली गई है, जबकि जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के अनुसार, रविवार की सुबह 918,000 से अधिक मौतें हुई हैं। कुल मामलों की संख्या 28,650,588 थी और मृत्यु दर बढ़कर 918,796 हो गई।

सेंटर फॉर सिस्टम्स साइंस एंड इंजीनियरिंग (CSSE) ने अपने नवीनतम अपडेट में इसकी जानकारी दी है। CSSE के अनुसार, दुनिया में सबसे ज्यादा मामले अमेरिका में सामने आए हैं। अमेरिका में अब तक 6,482,503 लोग संक्रमित हो चुके हैं। वहीं, कोरोना के कारण अब तक 193,670 लोगों की मौत हो चुकी है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।