संतोषगढ़ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का भवन एक साल में बनकर होगा तैयारः सत्ती .. #news4
October 18th, 2020 | Post by :- | 116 Views

ऊना 18 अक्तूबर: छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने आज ऊना विधानसभा क्षेत्र के गांव छतरपुर ढाडा में 12 लाख रूपये की लागत से निर्मित सामुदायिक भवन का लोकार्पण किया। इस अवसर पर सतपाल सत्ती ने कहा कि इसके बनने से गरीब व मध्यम वर्ग को समारोह व कार्यक्रमों के आयोजन के लिए अब होटलों में भारी-भरकम राशि खर्च करने से राहत मिलेगी तथा बहुत कम शुल्क अदा कर सामुदायिक भवन में लोग अपने आयोजन कर सकेंगे।
उन्होंने कहा कि ऊना विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न स्थानों पर सरकार द्वारा सामुदायिक भवनों का निर्माण किया जा रहा है। बसदेहड़ा में दो करोड़ 45 लाख की लागत से निर्मित दो हजार लोगों की क्षमता के मैरिज पैलेस और लोअर देहलां में 35 लाख रूपये की राशि से निर्मित सामुदायिक भवनों का लोकार्पण हो चुका है। झुडोवाल में 80 लाख रूपये की धनराशि से सामुदायिक भवन का निर्माण कार्य चल रहा है। जबकि रायपुर सहोडां सामुदायिक भवन के निर्माण का कार्य प्रगति पर है।
उन्होंने बताया कि वर्षों से लोगों की मांग रही कि मुहल्ला से भटोली कालेज के पीछे की सड़क का सुधार किया जाए, चिकनी मिट्टी और खस्ताहाल इस सड़क को वर्तमान सरकार द्वारा 70 लाख रूपए की राशि खर्च करके लोगों को समर्पित किया। उन्होंने जानकारी दी कि संतोषगढ़ नगर परिषद में साढ़े चार करोड़ की लागत से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के भवन का निर्माण कार्य युद्ध स्तर पर जारी है और एक साल के भीतर इसे पूरा कर लिया जाएगा। इस अस्पताल में पांच चिकित्सक बैठेंगे। इसके बनने से संतोषगढ़ और इसके आस पास के गांव ढाडा, सनोली, मजारा, मलूकपुर, बिडय़ाल, अजोली आदि के लोगों को स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध होगी। जबकि स्थानीय गांव के स्कूल के भवन की मुरम्मत के लिए दो लाख रूपये स्वीकृत हो चुके हैं।
सतपाल सत्ती ने बताया कि जल शक्ति मिश्न के तहत साल 2024 तक हिमाचल के हर घर में नल से पेयजल आपूर्ति करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस मिश्न के तहत जि़ला ऊना के लिए केन्द्र से 180 करोड़ रूपये की धनराशि उपलब्ध करवाई गई है और ऊना ऐसा पहला जिला बनने की ओर अग्रसर है, जहां 2022 तक ही हर घर में नल स्थापित हो जाएंगे। उन्होंने बताया कि ऊना विस में 7888 घरों में नल से जल उपलब्ध करवाने के लक्ष्य के मुकाबले अब तक चार हजार घरों में नल स्थापित हो चुके हैं तथा आगमी छ: माह के भीतर इस क्षेत्र के हर घर में नल से पेयजल आपूर्ति होगी। उन्होंने बताया कि हिमाचल प्रदेश एकमात्र ऐसा राज्य है जिसमें 70 साल से ऊपर हर वृद्ध तथा 70 प्रतिशत से अधिक अपंगता वाले व्यक्तियों को 1500 रूपये मासिक पैंशन दी जा रही है। इसके अतिरिक्त बेसहारा व असहाय लोगों को सहारा योजना के तहत राज्य में दो हजार रूपये प्रतिमाह पैंशन प्रदान की जा रही है।
इस अवसर पर राज्य वितायोग के अध्यक्ष ने स्थानीय महिला मण्डल भवन का निरीक्षण किया तथा इसकी मुरम्मत के लिए तीन लाख रूपये देने की घोषणा की, जबकि होली खडड की चैनलाइजेशन के लिए 25 लाख रूपये की धनराशि उपलब्ध करवाने की घोषणा की। स्थानीय लोगों की पंचायत भवन के निर्माण की मांग पर मुहल्ला चौधरी में रामलीला ग्राउंड के साथ चयनित भूमि को एक सप्ताह के भीतर भू-हस्तांतरण प्रक्रिया को पूर्ण करने का आश्वासन दिया। उन्होंने मौके पर 15 लाख रूपये की राशि पंचायत भवन के लिए उपलब्ध करवाने की घोषणा की और आश्वासन दिया कि आवश्यकता पडऩे पर और धनराशि उपलब्ध करवा दी जाएगी। उन्होंने स्थानीय पंचायत प्रधान से आग्रह किया कि वे शीघ्र ही भवन का एस्टिमेट तैयार करवाएं ताकि आगामी 15 दिनों के भीतर ही इस भवन की आधारशिला रखी जा सके।
इस अवसर पर भाजपा मण्डल सिंह हरपाल सिंह गिल स्थानीय प्रधान दलजीत कौर, उपप्रधान अनिल कुमार, पूर्व प्रधान महेन्द्र मोहन मन्नू, वार्ड पंच राज राम, ममता व गुरमीत, जेई शिव कुमार, तकनीकी सहायक संजीव कुमार व पंचायत सचिव जसवीर सिंह व स्थानीय लोग उपस्थित थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।