इंदौरा मंड में आफत भरा रहा तूफान, बिजली के खंभे व तारें टूटीं, अधिकारी पहुंचे जायजा लेने … #news4
June 11th, 2021 | Post by :- | 339 Views

इंदौरा : इंदौरा मंड में तूफान से किसान व बागवानों को नुकसान हुआ है। तूफान का सबसे ज्यादा अधिक असर क्षेत्र की मीलवां पंचायत में देखने को मिला जहां पर जगह जगह बिजली के खंभे और तारें टूट गई हैं। जिस कारण सारा जीवन अस्त व्यस्त हो गया है। अधिकारियों की टीम जायजा लेने पहुंची है।

कनिष्ठ अभियंता गौरव व उनकी टीम ने विद्युत आपूर्ति को दुरुस्त करने का मोर्चा संभाल लिया है। फिलहाल स्थिति को देखते लग रहा है कि विद्युत सप्लाई की पूर्ति को अभी समय लगेगा। मीलवां में सफेदों के पेड़ जड़ से उखड़ जाने के कारण राष्ट्रीय राजमार्ग लगभग छह घंटे तक बाधित रहा। एक बड़ा सफेदे का पेड़ काइया गुज्जर की भैंसों के ऊपर गिर जाने के कारण उसकी पांच भैंसे मौक़े पर ही मर गई ।

वहीं धमोता निवासी ताराचंद की तूफान में मौत हुई है। मीलवां गांव के सतपाल, तेज सिंह, कंचन कटोच, अजय कटोच, मास्टर जीत, लीला देवी, सुरेंद्र सिंह इत्यादि बागवानों के लीचियों के पेड़ों को भारी नुकसान पहुंचा है । तूफान की गति तेज होने के कारण सैकड़ों लीची के पेड़ जड़ से उखड़ कर दूर खेतों में पहुंच गए।

नुकसान का जाजा लेने पहुंचे बागवानी अधिकारी व पटवारी

बागवानी विभाग इंदौरा से बागवानी अधिकारी कुलदीप सिंह सहित गठोता पटवार सर्कल के पटवारी जसविंदर सिंह ने मौके पर पहुंचकर मरी हुई भैंसों और उखड़े हुए लीची के पेड़ों की जानकारियां इकट्ठी की। इसके अलावा उलेहड़ियाँ, बसंतपुर पंचायत में भी लीची के पेड़ उखड़ाहै। त्यौरा गांव से ओम प्रकाश, स्वरूप सिंह, गगन सिंह, वीर सिंह, ईश्वर सिंह, जीवा आदि और बसंतपुर से चैन सिंह विक्रांत और कपिल के लीची के पेड़ तूफान ने जड़ से उखड़ दिए जिस कारण बागवानों को भारी आर्थिक नुकसान झेलना पड़ा है।

इसके इलावा उलेहड़ियां के सोढ़ी का और धमोता के सुरजीत का पोल्ट्री फार्म की शेड भी उड़ गया । ग्रामीणों ने प्रशासन और सरकार से तुरंत इस प्रति कार्रवाई करने की अपील की है तथा उचित मुआवजा शीघ्र से शीघ्र देने की भी मांग की है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।