हर जुकाम Delta Variant नहीं है, घबराएं नहीं रोग को पहचानें #news4
July 8th, 2021 | Post by :- | 134 Views

कोरोना वायरस के लक्षणों में बहुत तेजी से बहुत अधिक बदलाव देखे गए है। हालांकि अब आम सर्दी –जुकाम होने पर भी लोग घबरा जाते हैं। कोरोना वायरस और डेल्टा प्लस वेरिएंट के लक्षण बहुत हद  तक एक जैसे हैं लेकिन यह लक्षण बदलते मौसम की वजह से भी हो सकते हैं इसलिए ऐसे समय में रोग को पहचानने की जरूरत है। सभी के मन में यह सवाल उठता है कि क्या ऐसे में जुकाम हो गया  मतलब कही कोरोना या डेल्टा वेरिएंट तो नहीं? कैसे आम जुकाम की पहचान करें| डॉ सुस्‍मित कोस्‍टा ने बताया कि, ‘सामान्‍य जुकाम भी हो सकता है। लेकिन देखा जाए तो लक्षण जरूर एक जैसे है। सामान्‍य बुखार भी आ सकता है। ऐसा जरूरी नहीं है कि बुखार हमेशा वेरिएंट के कारण ही आ रहा हो। कोरोना से पहले भी जब हमें कभी बुखार आता था तब हम टेस्ट कराते थे ताकि मलेरिया या डेंगू नहीं हो। वैसे ही चेक कराना जरूरी है कि हमे सीजनल फीवर है या डेल्‍टा प्लस की वजह से फीवर तो नहीं आ रहा है। कई बार डॉक्टर आपको जांच कराने के लिए कहते है, इसके बाद में इलाज शुरू किया जाता  है। इसलिए ऐसा जरूरी नहीं है कि हर बार जुकाम होना डेल्टा वेरिएंट के लक्षण है।’   > ‘देखा जाए तो अभी मौसम भी बदल रहा है, एक यह भी बड़ा कारण हो सकता है। इसलिए कोल्‍ड भी हो सकता है। इसकी जो साइकिल रहती है वह भी 7 दिन की ही होती है।’

तो अब आप जान गए होंगे कि जुकाम सामान्‍य भी हो सकता है, लेकिन पहचान के लिए टेस्ट कराना जरूरी है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।