लाखों की संपत्ति मालिक वृद्धा भूखी-प्यासी जीवन काटने को मजबूर #news4
January 14th, 2021 | Post by :- | 125 Views

ज्वालामुखी  : ज्वालामुखी के जखोटा पंचायत की एक वृद्धा सत्या देवी जिसकी उम्र लगभग 90 वर्ष है, भूखी-प्यासी जीवन काटने को मजबूर है। वृद्धा लाखों की संपत्ति की मालिक भी है लेकिन उम्र के इस पड़ाव में उसे पूछने वाला कोई नहीं है। यह मामला तब सामने आया जब सत्या देवी चीख रही थी और वहां के समाजसेवी उत्तम चंद ने वृद्धा की चीख सुनी। चीख सुनकर वे रुक गए। जाकर देखा तो वहां वृद्धा थी जिसे उत्तम चंद ने बाहर धूप में बैड पर लेटाया और पुलिस को इसकी सूचना दी। जानकारी के अनुसार सत्या देवी पहले रिश्तेदारों के पास रह रही थी, लेकिन पिछले कुछ माह से यहां पर है। जानकारी के अनुसार सत्या देवी लाखों की जमीन की मालिक है, लेकिन अब इसे दो वक्त कि रोटी देने वाला कोई नहीं है। उक्त समाजसेवी ने इसकी सूचना मीडिया को भी दी ताकि वृद्धा की सहायता की जा सके। जानकारी के अनुसार वृद्धा का एक पोता है, लेकिन हालात ऐसे हैं कि उसे खाना तो दूर की बात इसे देखने वाला भी कोई नहीं।

उत्तम चंद का कहना है कि सरकार या प्रशासन को उक्त वृद्धा की मदद करनी चाहिए। उक्त वृद्धा को वृद्ध आश्रम ले जाया जाए ताकि वहां उसकी देखभाल हो सके। उत्तम चंद ने बताया कि इस ठंड में यदि वृद्धा की देखभाल अतिआवश्यक है। बताया जा रहा है कि उक्त वृद्धा पक्के मकान में रहती है जो उसी के पैसों से डाला गया है, लेकिन बुढ़ापे में अब उसकी देखभाल कोई नहीं कर रहा है। उत्तम चंद ने समाजसेवी संस्थाओं से भी आग्रह किया है कि सत्या देवी को कहीं अच्छी जगह रखा जाए ताकि वृद्धा की सही देखभाल हो सके। इस बारे में डीएसपी ज्वालामुखी तिलक राज शांडिल ने कहा कि थाना प्रभारी ज्वालामुखी को आदेश दिए गए हैं कि वृद्धा को इसकी बेटी के पास भेजा जाए या फिर समाजसेवी संस्थाएं आगे आएं तो इसे कही सही जगह रखा जाए ताकि वृद्धा का सही ढंग से गुजर बसर हो सके।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।