लखरूंह बनेगा पहला बहु परत तकनीक आधारित कृषि ग्रामः कंवर … #news4
October 18th, 2020 | Post by :- | 155 Views

ऊना (18 अक्तबर)- कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र के लखरूंह गांव को प्रदेश का पहला पॉली बायोनिक (बहु परत) तकनीक आधारित सेल्फ सस्टेनेबल आर्गेनिक विलेज बनाया जाएगा। यह बात कृषि मंत्री वीरेंद्र कंवर ने शनिवार देर शाम लखरूंह में आयोजित किए गए एक कार्यक्रम में कही। उन्होंने कहा कि हरियाणा के डिजिटल किसान फार्मिंग एंड ऑर्गेनिक एफपीओ ने पायलट प्रोजेक्ट के रूप में गांव को गोद लिया है तथा परियोजना की सफलता के बाद इस मॉडल को पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कृषि की यह एक आधुनिक तकनीक है, जिसे अपना कर किसान अपनी आय बढ़ा सकते हैं।
उन्होंने कहा कि डिजिटल किसान फार्मिंग एंड ऑर्गेनिक एफपीओ लखरूंह के किसानों को बहु परत खेती तकनीक की जानकारी प्रदान करेगा, जिसका कार्य शुरू हो गया है। इसके अलावा उन्हें बीज व खाद इत्यादि भी प्रदान किए जाएंगे। वीरेंद्र कंवर ने कहा कि बहु परत खेती तकनीक छोटे किसानों के लिए बेहद फायदेमंद साबित हो सकती है क्योंकि इससे छोटे क्षेत्र में भी बहु परतें बनाकर खेती का क्षेत्र बढ़ाया जा सकता है, जिससे उत्पादन बढ़ेगा तथा किसान की आय में बढ़ोतरी होगी। कृषि मंत्री ने कहा कि हरियाणा का एफपीओ 6 माह के भीतर गांव को सेल्फ सस्टेनेबल आर्गेनिक विलेज बनाएगा तथा इसमें कृषि विभाग भी पूरी मदद प्रदान करेगा। उन्होंने कहा कि किसानों के तैयार उत्पाद को बाजार उपलब्ध करवाने की जिम्मेदारी भी प्रशिक्षण प्रदान करने वाले एफपीओ की होगी।
कृषि मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि एक बार लखरूंह में इस तकनीक के सफलतापूर्वक क्रियान्वयन के बाद बाकी गांव भी इससे प्रेरित होंगे तथा बहु परत खेती को अपनाने के लिए आगे आएंगे। उन्होंने कहा कि किसानों की आय को बढ़ाने में पशु पालन भी अहम भूमिका निभा सकता है। कुटलैहड़ में 100 से अधिक बकरी के यूनिट प्रदान किए गए हैं, जिनके दूध व पनीर को अलग ब्रांड के तौर पर बाजार में बेचा जाएगा। उन्होंने कहा कि बकरी के दूध में प्रोटीन की मात्रा अधिक होती है तथा मरीजों को भी इसकी आवश्यकता रहती है।
इस अवसर पर गौ सेवा आयोग के सदस्य कृष्ण पाल शर्मा, भाजपा नेता विजय शर्मा, राजेंद्र रिंकू, सुशील रिंकू, मदन राणा, सुरेंद्र हटली, वरिष्ठ पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. सतेंद्र ठाकुर तथा डिजिटल किसान फार्मिंग एंड ऑर्गेनिक एफपीओ के एमडी अरुण मलिक सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।