गहरा ध्यान लगाकर मेडिटेशन कैसे करें … #news4
November 4th, 2020 | Post by :- | 314 Views

मेडिटेशन में आंखे बंद करके ध्यान लगाना जरुरी होता है। मेडिटेशन एक बेहद आसान प्रक्रिया है लेकिन इसे करने के दौरान सबसे ज्यादा कठिनाई होती है ध्यान लगाने में और दिमाग को विचारशून्य रखने में। जब आप मेडिटेशन करना शुरु करते हैं तो ध्यान लगाना बेहद मुश्किल होता है और ऐसे में आपको लगने लगता है कि आप मेडिटेशन कर ही नहीं सकते हैं। गहाराई से ध्यान लगाने पर आपको मेडिटेशन करने के फायदे मिल सकते हैं। आइए जानते हैं कुछ टिप्स के बारे में जिनकी मदद से आप गहराई से ध्यान लगा सकते हैं।

1. आराम से बैठें- मेडिटेशन करते समय आराम से बैठें और ऐसा स्थान चुनें जहां आपको पूरी शांति प्राप्त हो। लंबे वर्किंग समय के बाद अगर आप खुद मेडिटेशन कर रहे हैं तो कंधों, कमर, पैर आदि का दर्द दूर करने के लिए पहले स्ट्र्रैचिंग करें और फिर मेडिटेशन के लिए जमीन पर बैठें। बैठते वक्त ध्यान रहे कि आपकी कमर सीधी हो।

2. सही तरह से सांस लें- मेडिटेशन के दौरान सही तरह से ब्रीदिंग करते समय गिनती जरुर करें। 10 से उल्टी गिनती शुरु करने पर 8 गिनने पर सांस लें और 0 पर सांस छोड़ें। हर सांस के साथ उल्टी गिनती शुरु करें जैसे नंबर कम होते जाते हैं आपके ध्यान की गहराई भी बढ़ती जाती है।

3.विचारों पर ध्यान लगाएं- जब मेडिटेशन की शुरुआत करते हैं तो विचारों से ध्यान हटाना मुश्किल होता है। इसलिए विचारों से ध्यान हटाने की बजाय ऐसे विचारों पर ध्यान लगाएं जो कि आपके दिमाग को खुश और रिलैक्स करें। सांसों पर ध्यान केंद्रित करें, दिमाग में प्रकृति की खूबसूरती जैसे- झीलों, पहाड़ों, मछली आदि के दृश्यों को सोचें। इससे धीरे-धीरे विचार खुद कम होने लगते हैं और ध्यान की गहराई बढ़ जाती है।

4. अंतिम समय में लगाए ध्यान- मेडिटेशन को खत्म करते वक्त अपना ध्यान खत्म करने और इस दुनिया में लौटने के लिए भी सही तरीका अपनाएं। जो चीजें आपको छू रही है जैसे- कुशन, जमीन आदि को महसूस करें और फिर धीरे-धीरे आंखें खोले।

5.अन्य टिप्स-

  • मेडिटेशन का समय कितना भी हो सकता है। आप दिनभर में 2 मिनट से लेकर घंटेभर भी ध्यान लगा सकते हैं।
  • शांति, सकारात्मकता इस दौरान महसूस करना बहुत जरुरी होता है।
  • मेडिटेशन के दौरान ध्यान जितना गहरा होता है आप खुद को उतना ही खुश और सकारात्मक महसूस करते हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।