हिमाचल: दो नवंबर से खुलने वाले स्कूलों में जनवरी और फरवरी में भी लगेंगी नियमित कक्षाएं … #news4
October 29th, 2020 | Post by :- | 227 Views
हिमाचल में दो नवंबर से खुलने जा रहे स्कूलों में जनवरी और फरवरी में भी नियमित कक्षाएं लगेंगी। कोरोना संकट के चलते इस बार शीतकालीन छुट्टियों वाले स्कूलों में सर्दियों की छुट्टियां नहीं होंगी। ऑनलाइन पढ़ाई भी जारी रखी जाएगी। साढ़े सात माह तक स्कूल बंद रहने के कारण अब शैक्षणिक सत्र को बढ़ाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। शिक्षा विभाग ने इसका प्रस्ताव तैयार कर लिया है। संभावित है कि नवंबर या दिसंबर की कैबिनेट बैठक में इसे रखा जाएगा। पहली से 12वीं कक्षा की वार्षिक परीक्षाएं इस बार एक साथ पूरे प्रदेश में मार्च 2021 में लेने का फैसला लिया गया है। कोरोना के चलते इस साल मार्च से हिमाचल में स्कूल बंद हैं।
बच्चों की पढ़ाई जारी रखने को ऑनलाइन शिक्षण सामग्री व्हाट्सएप से भेजी जा रही है। ऑनलाइन फर्स्ट टर्म परीक्षाएं भी ली गईं। सेकेंड टर्म परीक्षाओं की तैयारी शुरू हो गई है। ई पीटीएम भी विभाग दो बार कर चुका है। अब प्रदेश में पहले के मुकाबले हालात कुछ सामान्य हो रहे हैं। दो नवंबर से सरकार ने नौवीं से 12वीं कक्षा की नियमित कक्षाएं लगाने का फैसला लिया है। ऐसे में शिक्षा विभाग ने इस बार शीतकालीन स्कूलों में जनवरी और फरवरी की छुट्टियां नहीं देने का फैसला लिया है। इन दो माह में भी स्कूल खोलने का प्रस्ताव तैयार किया गया है। इस मामले को भी कैबिनेट मंजूरी के लिए भेजा जाएगा। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि मार्च से स्कूल बंद होने के चलते टीचिंग डे प्रभावित हुए हैं। सिलेबस पूरा करने और बच्चों की पढ़ाई को गति देने के लिए सर्दियों की छुट्टियां नहीं दी जाएंगी। कोरोना के चलते पहले ही स्कूलों की छुट्टियां का कोटा पूरा कर लिया गया है।

स्कूल-कॉलेज खोलने के एसओपी बनाने में जुटे अधिकारी

प्रदेश में दो नवंबर से स्कूल-कॉलेज और कोचिंग संस्थानों को खोलने की एसओपी बनाने में विभागीय अधिकारी जुट गए हैं। एक-दो दिन के भीतर इसे तैयार कर लिया जाएगा। केंद्र सरकार की एसओपी का शिक्षा निदेशालय के अधिकारी मंथन कर रहे हैं। इसके अलावा पड़ोसी राज्यों के एसओपी को भी खंगाला जा रहा है।

शिक्षा सचिव राजीव शर्मा ने बताया कि मुख्य तौर पर फेस मास्क लगाना अनिवार्य किया जाएगा। थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही शिक्षकों और विद्यार्थियों को शिक्षण संस्थानों में प्रवेश दिया जाएगा। पर्याप्त शारीरिक दूरी बनाई जाएगी। परिसरों को सैनिटाइज किया जाएगा। स्कूलों में प्रार्थना सभाएं नहीं होंगी। उन्होंने बताया कि जल्द विस्तृत एसओपी को जारी कर दिया जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।