गुरू रविदास ने मानवता को समता, समभाव, सेवा एवं सद्भावना का मंत्र दिया: कंवर #news4
February 27th, 2021 | Post by :- | 206 Views

ऊना 27 फरवरी: संत गुरू रवि दास ने मानवता को समता, समभाव, सेवा एवं सद्भावना का गुरूमंत्र देकर एक आदर्श समाज के निर्माण की प्रेरणा दी तथा ईश्वर के प्रति अपने असीम प्रेम को दर्शाते हुए उन्होंने सामुदायिक और सामाजिक जीवन के सुधार के लिए अपनी कविताओं और लेखनों के माध्यम से विविध प्रकार की शिक्षाएं और संदेश दिये। यह बात ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज, कृषि, मत्स्य व पशुपालन मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने आज कुटलैहड़ विधानसभा के अन्तर्गत गुरू रविदास सभा भवौर साहिब मन्दिर कमेटी द्वारा ग्राम पंचायत हण्डोला में आयोजित संत श्री गुरू रवि दास प्रकाशोत्सव समारोह में बतौर मुख्यातिथि जनसमूह को संबोधित करते हुए कही।
वीरेन्द्र कंवर ने बताया कि पुरातन काल में भारत अपनी सनातनी समृद्ध व वैभवशाली संस्कृति से परिपूर्ण था तथा हमारी संस्कृति के स्वाभाव में कहीं भी ऊंच-नीच अथवा छुआ छूत का भाव नहीं था, लेकिन बाहरी आक्रमणकारियों ने हमारे ज्ञान-विज्ञान व धार्मिक साहित्य को नष्ट किया। उन्होंने कहा कि संत गुरू रविदास ने अपने जीवन काल में सामाजिक कुरीतियों का जमकर विरोध किया तथा समाज को बराबरी, बंधुत्व, भाईचारे व श्रम का संदेश दिया। उन्होंने कहा कि गुरू रविदास की वाणी और विचार हमेशा एक बेहतर समतामूलक समाज के निर्माण के ही रहे।
गुरू रविदास सभा भवौर साहिब मन्दिर कमेटी ने मुख्यातिथि का स्वागत किया।
क्षेत्र के विकास का उल्लेख करते हुए वीरेन्द्र कंवर ने बताया कि रामगढ़धार पेयजल योजना के सुधारीकरण पर 14 करोड़ रूपये खर्च किये जा रहे हैं, जिसके तहत 40 टैंकों का निर्माण किया जा रहा है जिसके अन्तर्गत गांव पुरोइयां, मंदली, बुडवार, थड़ा, मकरैड़ में टैंक निर्मित किये जा रहे हैं। इससे चंगर क्षेत्र के लोगों की पेयजल समस्या का पूर्ण निदान हो जाएगा।
उन्होंने बताया कि ग्राम पंचायत चंगर में गत तीन वर्षों में 14वें वित्तायोग में 35 लाख रूपये विभिन्न योजनाओं के लिए स्वीकृत किये गये जिनमें से अब तक 32 लाख रूपये की राशि व्यय करके यहां के संम्पर्क मार्गों को पक्का किया गया। इसके अलावा ईको विलेज के तहत भी इस ग्राम पंचायत में 50 लाख रूपये की राशि पार्क निर्माण, प्रवेशद्वार, पौधरोपण व पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने पर व्यय की जा रही है। जबकि मुख्यमंत्री लोकभवन योजना के तहत 30 लाख रूपये की लागत से भवन का निर्माणकार्य जारी है। उन्होंने बताया कि 9.5 लाख रूपये की लागत से ग्रामीण हाॅट, 10 लाख से पंचायत भवन का निर्माण, 6 लाख से मोक्षधाम निर्मित किया गया है। इसके अतिरिक्त पर्यटन की दृष्टि से क्षेत्र को विकसित करने के उद्देश्य से मनरेगा के तहत 18 लाख रूपये की राशि से भ्रमौती मन्दिर परिसर के समीप पंचवटी योजना के अन्तर्गत पार्क का निर्माण किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मनरेगा योजना के तहत गत तीन वर्षों में लगभग एक करोड रूपये की राशि व्यय करके 24 हजार कार्यदिवस अर्जित किये गये हैं।
इस अवसर पर मंत्री ने चंगर क्षेत्र के लोगों की बिजली, पानी व सड़क से सम्बन्धित समस्याओं को सुना तथा अधिकारियों को शीघ्र समाधान के निर्देश दिये।
इस अवसर पर जिला परिषद् उपाध्यक्ष कृष्ण पाल, डीपीओ राहुल शर्मा, मण्डलाध्यक्ष मास्टर तरसेम लाल, अधीक्षण अभियंता अरविंद सूद, एक्सियन लोक निर्माण शाशिपाल धीमान, उपनिदेशक पशुपालन जयसिंह सेन, एसडीओ जलशक्ति हरभजन सिंह, रविदास सभा कर्मटी व चंगर क्षेत्र प्रधान सुनील कुमार व उपप्रधान कुलवीर सिंह, प्रधान थड़ा गुरनाम सिंह सहित क्षेत्र के गणमान्य व्यक्ति व स्थानीय जनता उपस्थित रहे।
–0–

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।