एक तेल में दो से ज्यादा बार फ्राई किया खाना छीन लेगा आपकी जिंदगी … #news4
October 15th, 2020 | Post by :- | 222 Views

फूड एंड सेफ्टी डिपार्टमेंट ने जारी किया अलर्ट, जलेबी-पकौड़े-समोसे तलने वाले हलवाइयों पर रहेगी विभाग की पैनी नजर
अब खाने में इस्तेमाल किए जाने वाले तेल का इस्तेमाल बार-बार करने से जरा बचिए। यह आपके जीवन में बड़ा भूचाल ला सकता है। जी हां, एक फूड तेल को दो से ज्यादा बार अगर आप इस्तेमाल कर रहे हों, तो कई बीमारियों को न्योता दे रहे हैं। भारत सरकार के बाद अब हिमाचल के फूड एंड सेफ्टी डिपार्टमेंट ने इसे लेकर अलर्ट जारी कर दिया है। बताया जा रहा है कि रि यूज्ड कुकिंग ऑयल स्वास्थ्य के लिए बड़ा खतरा है। इससे मनुष्यों को हार्ट, शुगर व कई बीमारियां हो सकती हैं। फिलहाल हिमाचल फूड एंड सेफ्टी डिपार्टमेंट की सह-आयुक्त डा. विजया ठाकुर ने इसकी पुष्टि कर दी है। हिमाचल के फूड बिजनेस आपरेटर को निर्देश दिए गए हैं कि वह दो से ज्यादा बार फूड ऑयल को किसी खाद्य पदार्थ को तलने के लिए इस्तेमाल न करें। इसके साथ ही विभाग ने यह भी साफ किया है कि सभी जिलों में फूड अफसरों की ड्यूटी लगाई गई है।
त्योहारी सीजन में फूड अफसर हर हलवाई की दुकान में जाकर सैंपल भरेंगे, इसके साथ ही विभाग के पास एक मशीन भी दी गई है, जो तेल की पौलर काम्पाउडर वैल्यू चैक करेगी। यह वैल्यू 25 से ज्यादा ही आना चाहिए, इससे कम होने पर वह तेल अब खाना बनाने व तलने के लायक नहीं रहता है। फिलहाल केंद्र सरकार के आदेश पर फूड एंड सेफ्टी डिपार्टमेंट ने फूड बिजनेस आपरेटर को कोई नुकसान न हो, इसे लेकर यूज्ड तेल खरीदने के लिए तीन कंपनियां को हायर भी किया है। यह कंपनियां हिमाचल के सभी फूड बिजनेस आपरेटर के साथ कांटै्रक्ट करेंगी। हलवाई को एक कंटेनर कंपनी की ओर से दिया जाएगा, ताकि वह यूज्ड तेल को उसमें जमा कर सकें। बता दें कि यूज्ड फूड ऑयल से प्रदेश में बायोडीजल तैयार किया जाएगा। खाद्य एवं सुरक्षा विभाग त्यौहारी सीजन को लेकर अलर्ट में आ गया है। मिठाइयों की क्वालिटी को जांचने के लिए भी अब विभाग ने पूरा रोडमैप तैयार कर दिया है। बताया जा रहा है कि त्योहारी सीजन में फूड ऑयल का बार-बार इस्तेमाल करने वाले दुकानदारों को जहां भारी भरकम जुर्माना लगाया जाएंगा, वहीं उन्हें फूड एंव सेफ्टी एक्ट के तहत सजा भी हो सकती है। यही वजह है कि अब विभाग ने यूज्ड तेल को बार-बार इस्तेमाल न करने के आदेश दिए हैं।
इम्युनिटी सिस्टम के लिए घातक
अकसर हलवाइयों की दुकान में सुबह से शाम तक एक ही तेल में जलेबी, पकौड़े, समोस आदि तले जाते हैं। इससे लोगों का इम्युनिटी सिस्टम खत्म हो रहा है। चूंकि कोरोना काल में ज्यादा सुरक्षित रहने की जरूरत है, ऐसे में इम्युनिटी का स्ट्रांग होना बेहद जरूरी है।
हार्ट के लिए सबसे खतरनाक
डाक्टर बताते हैं कि अगर एक ही तेल में बार-बार खाद्य वस्तुएं तलकर खाई जा रही हैं, तो इससे हार्ट व इम्युनिटी सिस्टम पर काफी प्रभाव पड़ता है। ऐसे में डाक्टर भी यही सलाह देते हैं कि संक्रमण के इस दौर में इम्युनिटी सिस्टम को अच्छा बनाने के लिए एक ही तेल का इस्तेमाल बार-बार न करें।
रोजाना 200 करोड़ रुपए का व्यापार
प्रदेश में मौजूदा समय में एक दिन में करीब 200 करोड़ का कारोबार हो रहा है, जो सामान्य दिनों के मुकाबले 300 से 400 करोड़ कम आंका जा रहा है। प्रदेश में पूर्व में सामान्य दिनों के दौरान एक दिन में 500 से 600 करोड़ रुपए का कारोबार होता है। कोविड को मंदी का कारण माना जा रहा है, मगर त्योहारी सीजन में कारोबार में तेजी आने की संभावना जताई जा रही है।
संडे को भी खोलने दें बाजार

प्रदेश में त्योहारी सीजन के दौरान कारोबारियों को रविवार के दिन भी दुकानें खोलने की अनुमति दी जाए। यह मांग प्रदेश व्यापार मडंल ने राज्य सरकार से उठाई है, ताकि मंदी की मार झेल रहे कारोबारियों को राहत मिल सके।प्रदेश व्यापार मंडल के प्रदेशाध्यक्ष सुमेश शर्मा ने कहा कि कारोबारी वर्ग संडे को दुकाने बंद रख रहा है, जबकि वीकेंड पर काफी संख्या में सैलानी प्रदेश की सैरगाहों में पहुंच रहे हैं। उन्होंने कहा आगामी दिनों के दौरान फेस्टिवल सीजन आरंभ होने जा रहा है। ऐसे में अगर राज्य सरकार कारोबारियों को रविवार को भी दुकानें खोलने की अनुमति प्रदान कर देती है, तो कारोबारियों को काफी हद तक की राहत मिलेगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।