कोरोना पॉजिटिव शिक्षकों और विद्यार्थियों का ब्यौरा तलब, 21 के बाद स्कूलों को किया जाएगा सैनेटाइज #news4
January 17th, 2021 | Post by :- | 117 Views

शिमला: Himachal School Reopen, कोरोना महामारी के खतरे के बीच स्कूलों को खोलने की तैयारियां शुरू हो गई है। समग्र शिक्षा अभियान (एसएसए) ने सभी जिलों से शिक्षक और बच्चों के स्वास्थ्य का रिकार्ड तलब किया है। एसएसए निदेशालय की ओर से जारी सर्कुलर में पूछा गया है कि अप्रैल 2020 से लेकर जनवरी 2021 तक स्कूलों में कार्यरत कितने शिक्षक और बच्चें कोविड पॉजिटिव आए। इनकी अभी क्या स्थिति है, यानि कितने ठीक हो चुके हैं। कितनों का अभी भी अस्पतालों में ईलाज चल रहा है। कितने शिक्षक वेंटिलेटर पर है। कोरोना के चलते कितने शिक्षकों की कोरोना से मौत हुई है। एसएसए की ओर से आए सर्कुलर के बाद उप शिक्षा निदेशक प्रारंभिक शिक्षा भाग चंद चौहान और उप शिक्षा निदेशक उच्चतर शिक्षा राजेश्वरी बत्ता ने सभी स्कूलों से इसका रिकार्ड उप शिक्षा निदेशक कार्यालय को भेजने के निर्देश जारी किए हैं। जिला के सभी स्कूलों के प्रधानाचार्य, मुख्य अध्यापक, केंद्रिय मुख्य अध्यापक से इसका रिकार्ड तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं।

21 के बाद स्कूलों को किया जाएगा सैनिटाइज

21 जनवरी तक पंचायतीराज संस्थाओं के चुनाव हैं। स्कूलों में पोलिंग बूथ बनाए गए हैं। चुनावी प्रक्रिया समाप्त होने के बाद प्रधानाचार्य और मुख्य अध्यापकों की जिम्मेदारी होगी कि वह स्कूलों को सैनेटाइज करवाए। ताकि स्कूल खुलने के बाद जब नियमित कक्षाएं शुरू होगी तो किसी भी तरह का संक्रमण न बना रहे। उप शिक्षा निदेशक शिमला भाग चंद चौहान ने कहा कि सभी स्कूलों को जल्द से जल्द यह रिकार्ड भेजने के निर्देश दिए गए हैं।  प्रदेश में 1 फरवरी से स्कूल खुल जाएंगे। सर्दियों की छुट्टियों के चलते शिमला जिला में 15 फरवरी के बाद स्कूल खुलेंगे। पंचायतीराज संस्थाओं के चुनाव खत्म होने के बाद स्कूलों को पहले सैनेटाइज किया जाएगा। 21 जनवरी के बाद स्कूलों  शिमला जिला के ज्यादातर स्कूलों में पोलिंग बूथ बनाए गए हैं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।