जमीनी विवाद की जांच करने गई पुलिस टीम पर जानलेवा हमला, 3 गिरफ्तार … #news4
October 18th, 2020 | Post by :- | 187 Views

जमीनी विवाद के मामले की जांच के लिए झंडूता थाना से समोह पहुंची पुलिस की टीम पर एक परिवार के सदस्यों ने हमला कर दिया। आरोप है कि एक आरोपी ने 2 पुलिस कर्मियों को ढांक से धक्का देकर जान से मारने का प्रयास किया। हमले में कुछ पुलिस कर्मिंयों को जहां चोटें आईं, वहीं वर्दी भी फट गई। थाना से अतिरिक्त पुलिस फोर्स बुलाकर कड़ी मशक्कत से आरोपियों को काबू किया गया। उनके खिलाफ हत्या के प्रयास समेत भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

जानकारी के अनुसार समोह में जमीनी विवाद का एक मामला पुलिस तक पहुंच गया था। इसकी जांच के लिए गत शनिवार शाम झंडूता थाना से एसएचओ हरपाल सिंह तथा एएसआई संजय व राजेश समोह पहुंचे। पुलिस के सामने ही बांकू राम, उसकी पत्नी रीता और बेटा सुनील शिकायतकर्ता परिवार से उलझ पड़े। वे उन्हें गोली मारकर जान से मारने की धमकी देने लगे। पुलिस ने उन्हें समझाने का प्रयास किया लेकिन वे पुलिस कर्मियों से भी दुव्र्यवहार करने लगे। उन्हें मरने-मारने पर उतारू होते देख थाना से अतिरिक्त पुलिस कर्मी बुलाए गए। उन्होंने भी उक्त लोगों को समझाने का प्रयास किया लेकिन उन पर कोई असर नहीं हुआ। हालात बेकाबू होते देख तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया।

पुलिस कर्मियों के अनुसार आरोपियों को थाने ले जाते समय घर से 40-50 मीटर दूर सुनील ने अचानक अपना हाथ छुड़वाकर मुख्य आरक्षी विजय राम को ढांक से नीचे की ओर धक्का दे दिया। एएसआई राजेश ने विजय राम को पकडऩे के लिए हाथ बढ़ाया लेकिन सुनील ने उन्हें भी धकेल दिया। इससे दोनों ढांक में 25-30 फुट नीचे पहुंच गए। खुद को बचाने के लिए उन्होंने झाडिय़ों व टहनियों का सहारा लिया। इसी बीच सुनील ढांक से नीचे उतरा और अपने पैरों से उनके हाथों पर वार करने लगा। वह उन्हें ढांक से गिराकर जान से मारने की धमकी दे रहा था। इसी दौरान एएसआई संजय ने ढांक में उतर कर किसी तरह सुनील को काबू किया। तब कहीं जाकर ढांक में फंसे एएसआई राजेश व मुख्य आरक्षी विजय राम ऊपर आ सके।

उधर, अपने बेटे की तर्ज पर बांकू राम ने एसएचओ हरपाल सिंह व आरक्षी देवेंद्र पर लात-मुक्के बरसाते हुए वहां से भागने का प्रयास किया। बांकू राम द्वारा गले से पकडऩे की वजह से देवेंद्र की वर्दी भी फट गई, वहीं रीता भी अपने पति व बेटे को पुलिस कर्मियों पर हमले के लिए उकसाने के साथ ही महिला आरक्षी से धक्कामुक्की करती रही। इस घटना में एएसआई राजेश व मुख्य आरक्षी विजय राम घायल हो गए। एसएचओ हरपाल व आरक्षी देवेंद्र को भी अंदरूनी चोटें आई हैं। बाद में कड़ी मशक्कत से तीनों आरोपियों को काबू कर थाने ले जाया गया। डीएसपी मुख्यालय संजय शर्मा ने बताया कि भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।