Covid-19: इन लोगों को नहीं लगेगी कोरोना वैक्सीन, जानें टीका लगवाने के बाद क्या करें क्या न करें #news4
January 17th, 2021 | Post by :- | 215 Views

चीन के वुहान शहर से शुरू हुए कोरोना वायरस के संक्रमण ने पूरी दुनिया को हिला कर रख दिया। विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा कोरोना वायरस को पैनडेमिक यानी महामारी घोषित करने के बाद दुनियाभर के वैज्ञानिक इसके खात्मे के लिए दवा खोजने में जुट गए। कोरोना नाम की इस महामारी से निजात पाने के लिए पूरे भारत में भी 16 जनवरी शनिवार से कोरोना वैक्सीन लगनी शुरू हो गई है। हालांकि इस वैक्सीन के लगने के बाद भी कुछ सावधानियां बरतने की सलाह दी जा रही है। जिसके बाद ही कोरोना वायरस से पूरी तरह बचाव संभव हो पाएगा।

कोरोना वैक्सीन सबसे पहले सफाई कर्मचारियों, डॉक्टरों और नर्सों को दी गई। पीएम मोदी ने सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए लोगों को बताया कि ‘कोरोना वैक्सीन की 2 डोज़ लगना बहुत ज़रूरी है। पहली और दूसरी डोज के बीच, लगभग एक महीने का अंतराल भी रखा जाएगा। दूसरी डोज़ लगने के 2 हफ्ते बाद ही आपके शरीर में कोरोना के विरुद्ध ज़रूरी शक्ति विकसित हो पाएगी’। लेकिन यह वैक्सीन सभी लोगों को नहीं लगाई जाएगी। आइए जानते हैं कोरोना वैक्सीन किन लोगों को नहीं लगाई जाएगी और इसे लगवाने के बाद भी आपको किन सावधानियों का सख्ती से पालन करना जरूरी है।

30 मिनट तक टीका केंद्र में रहना होगा-
– टीका लगने के बाद 30 मिनट तक आपको टीका केंद्र में रहना होगा। इसके बाद आप घर जा सकेंगे।
– वैज्ञानिकों का कहना है कि अगर कोई रिएक्शन दिखना होगा तो वह आधे घंटे में दिखने लगेगा।
– 28 दिन के बाद वैक्सीन की दूसरी डोज लगाई जाएगी। जिस कंपनी की पहली डोज लगी है उसी कंपनी की दूसरी डोज भी लगेगी।
– पहला टीका लगने के बाद दूसरी डोज कब लगेगी, इसकी जानकारी भी आपके फोन पर दी जाएगी।

कोई रिएक्शन हो तो तत्काल फोन करें-
अगर घर पर भी कोई रिएक्शन के लक्षण दिखें तो टीकाकरण कार्ड में कुछ आवश्यक मोबाइल नंबर दिए गए हैं, जिस पर फोन किया जा सकता है। बिना डॉक्टरों की सलाह के कोई भी दवा न लें।

ये साइड-इफेक्ट हो सकते हैं-
जहां इंजेक्शन लगाया है वहां दर्द, सिरदर्द, थकान, मांसपेशियों में दर्द, असहज महसूस करना, उल्टी आना, कमजोरी, बुखार, पसीना आना, सर्दी, खांसी आना। सामान्य दर्द की दवा से आराम मिलेगा। इसलिए घबराने की जरुरत नहीं।

टीका लगाने के बाद क्या करें और क्या न करें-
– जिन्हें टीका लगा है वो लोग कम से कम दो महीने तक शराब का सेवन न करें। क्योंकि शराब पीने की आदत वैक्सीन को बेअसर कर सकती है
– विशेषज्ञ मानते हैं कि टीका लगने के बाद शरीर सामान्य रूप से काम करे इसके लिए जरूरी है कि लोग टीके से जुड़ी अफवाहों से दूर रहें। सकारात्मक रहें
– यात्रा करने से बचें। क्योंकि विशेषज्ञों का कहना है कि कोई भी कोरोना वैक्सीन शत-प्रतिशत असरदार नहीं है। कोविड प्रोटोकॉल तोड़ने से बचें
–  दो गज की दूरी बनाए। मास्क लगाना और हाथ धोना जारी रखें तभी टीके का असर तेजी से होगा

दूसरी डोज लेना जरूरी-
वैक्सीन की दो डोज लेना बहुत जरूरी है। पहली खुराक लेने के 28 दिन के बाद दूसरी खुराक दी जानी है, जिसके 14 दिन के बाद ही टीके से शरीर में प्रतिरक्षा पैदा होनी शुरू होगी। यह प्रतिरक्षा धीरे-धीरे बढ़ेगी इसलिए जरूरी है कि कोई भी व्यक्ति लापरवाही न करें।

इन लोगों को नहीं लगाई जाएगी वैक्सीन-
– वैक्सीन केवल 18 या उससे ऊपर की उम्र के लोगों को ही लगाई जाएगी।
– अगर किसी को किसी दूसरी बीमारी की वैक्सीन भी लगनी है तो कोविड वैक्सीन और अन्य बीमारी की वैक्सीन में 14 दिन का अंतर होना चाहिए।
– अगर किसी में कोरोना के लक्षण हैं तो उसे ठीक होने के 4 से 8 हफ्ते बाद वैक्सीन लगाई जाएगी।
– बीमार और अस्पताल में भर्ती लोग चाहे किसी भी बीमारी से ग्रसित हों उन्हें बीमारी से रिकवर होने के 4 से 8 हफ्ते बाद ही कोविड-19 वैक्सीन लगाई जाएगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।