हिमाचल में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच शिक्षण संस्थानों को दोबारा खोलने पर कैबिनेट कल लेगी फैसला ..
November 22nd, 2020 | Post by :- | 121 Views

कोरोना महामारी के खतरे के बीच हिमाचल प्रदेश में शिक्षण संस्थानों को दोबारा खोलने पर कैबिनेट सोमवार को फैसला लेगी। प्रदेशभर में कोरोना के मामलों में जिस तरह से बढ़ोतरी हो रही है उसे देखते हुए सरकार शिक्षण संस्थानों को खोलने का रिस्क नहीं लेना चाहती। स्कूल और कालेजों को बंद रखकर दोबारा से ऑनलाइन माध्यम से बच्चों की पढ़ाई शुरू करवाई जाएगी। कैबिनेट में इस पर विस्तृत चर्चा कर ही अंतिम निर्णय लिया जाएगा। सरकार ने 21 सितंबर से स्कूलों में बच्चों को परामर्श के लिए आने की अनुमति दी थी। इसके बाद दो नवंबर को स्कूल और काॅलेज को नियमित कक्षाओं के लिए खोल दिया गया था। नियमित कक्षाएं शुरू होने के बाद प्रदेशभर में बेहद कम बच्चे स्कूल आ रहे थे।

दो सौ से ज्यादा शिक्षक और बच्चे इस दौरान कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। जिस कारण सरकार ने स्कूलों में विशेष अवकाश घोषित कर स्कूल, कॉलेज सहित अन्य शिक्षण संस्थानों को 25 नवंबर तक के लिए बंद किया है। मंत्रिमंडल की बैठक में इस पर दोबारा चर्चा होगी। प्रदेश में कोरोना के मामलों की क्या स्थिति है, स्कूलों को दोबारा खोलना उचित रहेगा या नहीं, इन सभी तथ्यों पर चर्चा कर सरकार अंतिम निर्णय लेगी।

वार्षिक परीक्षाओं पर हो सकता है फैसला

बैठक में प्रदेश के सभी स्कूलों में वार्षिक परीक्षाओं को दिसंबर की बजाय मार्च में करवाने पर भी अंतिम मुहर लग सकती है। विभाग का तर्क है कि कोरोना महामारी के खतरे के कारण इस बार स्कूलों में ऑनलाइन ही पढ़ाई हुई है। मार्च में परीक्षाएं होने से विद्यार्थियों को पढ़ाई के लिए और मौका मिल जाएगा। हालांकि विभागीय स्तर पर यह निर्णय हो चुका है। इसे अंतिम मंजूरी के लिए कैबिनेट में रखा जाएगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।