Blood Sugar: रक्त में शुगर के स्तर को बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ #news4
August 21st, 2021 | Post by :- | 158 Views

Foods that hype Blood Sugar: रक्त में शुगर के स्तर को नियंत्रित रखना और इसे बढ़ने से रोकना काफी मुश्किल काम है। इसके लिये आपको अपने खानपान के साथ-साथ अपनी दैनिक आदतों पर भी ध्यान देना होता है। अगर आप डायबिटीज से पीड़ित हैं तो आपको इसका अधिक ध्यान रखने की जरुरत होती है। शरीर में शुगर का स्तर बढ़ने से कई स्वास्थ्य परेशानियां हो सकती है। अगर शरीर में ब्लड शुगर को सही तरीके से नियंत्रित नहीं किया जाये तो इस कारण शरीर में फैट जमने लगता है जो कि मोटापे का कारण बन सकता है। रक्त में शुगर के स्तर को सामान्य रखने के लिये कुछ खाद्य पदार्थों के सेवन से बचना चाहिए।

Foods that hype Blood Sugar: कौन से खाद्य पदार्त रक्त में शुगर के स्तर को बढ़ाते हैं

  • कॉफी
  • ओटमील
  • ब्राउन राइस
  • व्हीट ब्रेड
  • डेयरी

कॉफी

दिनभर में कॉफी का अधिक सेवन आपके शरीर में शुगर के स्तर को बढ़ा सकता है। इसमें एडेड स्वीटनर्स, क्रीम, फ्लेवर्स होते हैं जो अतिरिक्त शुगर का स्तर बढ़ा देते हैं।

इंस्टेंट ओटमील(Instant oatmeal)
इंस्टेंट ओटमील प्रोसैस्ड होती है साथ ही इनकी फ्लेवर्ड वैरायटी में अतिरिक्त शुगर हो सकती है। हमारा शरीर इन्हें आसानी से तोड़ लेता जिससे शरीर में शुगर का स्तर बढ़ सकता है।

ब्राउन राइस

ब्राउन राइस सफेद चावल का एक स्वस्थ विकल्प है जिसे सभी लोग बेहतर मानते हैं। इनमें मौजूद फाइबर पचाने में आसान होता है। हालांकि इनमें कार्ब्स की मात्रा अधिक होती है जो शरीर में शुगर के स्तर को बढ़ा सकती है।

व्हीट ब्रेड(Wheat bread)
व्हीट ब्रेड को अक्सर लोग होल ग्रेन ब्रेड(whole grain bread) समझते हैं और इनका सेवन स्वस्थ मानते हैं। हालांकि इनका सेवन करने से पहले आपको लेबल चेक कर लेना चाहिए और केवल होल ग्रेन ब्रेड को ही चुनना चाहिए क्योंकि व्हीट ब्रेड शुगर के स्तर को बढ़ा सकते हैं।

डेयरी
डेयरी उत्पाद जैसे दही, मक्खन चीज़, दूध आदि कैल्शियम और विटामिन डी की आपूर्ति के लिये बेहतर विकल्प हैं। लेकिन डेयरी उत्पादों का अधिक सेवन इंसुलिन रेसिसटेंस का कारण बन सकता है जिससे शुगर का स्तर प्रभावित होता है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।