गाड़ी मालिक ने लगाया रिश्वत मांगने का आरोप, RTO ने दर्ज करवाई शिकायत …. #news4
October 29th, 2020 | Post by :- | 227 Views

वर्तमान में सोशल मीडिया जहां लोगों के लिए आवाज उठाने का सशक्त माध्यम बना है तो वहीं कई बार सोशल मीडिया पर परोसी जाने वाली सामग्री के झूठ या सच होने को लेकर सवाल खड़े हो जाते हैं। ऐसा ही मामला जिला सिरमौर में सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो के बाद सामने आया है। एक गाड़ी के मालिक द्वारा फेसबुक पर वीडियो शेयर करते हुए आरोप लगाया गया है कि आरटीओ ने उनकी गाड़ी के चालान की एवज में उनसे 25,000 रुपए की रिश्वत की मांग की है। हालांकि पूरे वीडियो में रिश्वत की मांग सामने नहीं पाई जा रही है लेकिन वीडियो में व्यक्ति बार-बार 25,000 रुपए रिश्वत की मांग का आरोप लगा रहा है।

27 अक्तूबर का बताया जा रहा वीडियो

बताया जा रहा है कि वीडियो 27 अक्तूबर का है, जब आरटीओ नाहन राम प्रकाश पांवटा साहिब में दौरे पर थे। इस दौरान उन्होंने यहां एक गाड़ी का चालान इस कारण कर दिया क्योंकि गाड़ी में सिटिंग क्षमता 13 की थी जबकि मौके पर 19 सीटें पाई गईं, ऐसे में 6 सीटें अतिरिक्त थीं। चालान के बाद गुस्साए व्यक्ति ने वीडियो बनाया और फेसबुक पर शेयर कर दिया है। यह वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। 2 दिन के भीतर ही वीडियो को सैंकड़ों लोग देख चुके हैं और लगातार लोग अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं।

आरटीओ ने बुलाई प्रैस कॉन्फ्रैंस, आरोपों को नकारा

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो की वीरवार को जानकारी मिलते ही आरटीओ राम प्रकाश ने प्रैस कॉन्फ्रैंस बुलाई। उन्होंने कहा कि उन्हें आज ही मामले की जानकारी मिली है। जिस गाड़ी का चालान किया गया है, उसमें बैठने की क्षमता 13 है, लेकिन वाहन मालिक द्वारा गाड़ी में 19 सीटें लगाई गई हैं। ऐसे में गाड़ी का टैक्स अधिक बनता है, जिसके बाद वाहन का चालान किया गया है। उन्होंने बताया कि व्यक्ति द्वारा सोशल मीडिया पर जो वीडियो वायरल किया गया है, वह बेबुनियाद है। व्यक्ति का केवल चालान किया गया है, किसी भी तरह की रिश्वत की कोई मांग नहीं की गई है। इससे उनकी छवि भी धूमिल हुई है, जिसके बाद व्यक्ति के खिलाफ पुलिस थाना नाहन में शिकायत की गई है।

जांच के बाद होगी कार्रवाई : एएसपी

वहीं एएसपी सिरमौर बबीता राणा ने बताया कि आरटीओ नाहन की तरफ से मामले में शिकायत सौंपी गई है, जिसको लेकर जांच की जा रही है। जांच के बाद आगामी कार्रवाई होगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।