दिसंबर में हो सकती हैं पहली से आठवीं कक्षा की वार्षिक परीक्षाएं …
November 21st, 2020 | Post by :- | 182 Views

प्रदेश के सरकारी स्कूलों में पहली से आठवीं कक्षा तक वार्षिक परीक्षाएं दिसंबर या मार्च 2021 में लेने पर फैसला 23 नवंबर को प्रस्तावित कैबिनेट बैठक में होगा। शीतकालीन छुट्टियों वाले स्कूलों की मार्च 2021 में वार्षिक परीक्षाएं लेने के एलान पर पुनर्विचार शुरू हो गया है। विभागीय अधिकारी दिसंबर में ही वार्षिक परीक्षाएं लेकर इस शैक्षणिक सत्र को समाप्त करने के पक्ष में हैं। उधर, ग्रीष्मकालीन स्कूलों में हर वर्ष की तरह मार्च में ही आठवीं कक्षा तक परीक्षाएं लेने का प्रस्ताव है।
प्रारंभिक शिक्षा निदेशालय और समग्र शिक्षा अभियान के राज्य परियोजना कार्यालय ने बीते दिनों विस्तृत चर्चा के बाद दिसंबर में होने वाली पहली से आठवीं कक्षा तक परीक्षाओं के प्रश्नपत्र तैयार करने के शिक्षकों को निर्देश दिए हैं। डेटशीट कैबिनेट बैठक के फैसले के बाद बनेगी। परीक्षाएं ऑनलाइन करवाने का प्रस्ताव है। कोरोना के मामले बढ़ने पर अधिकारी विद्यार्थियों को स्कूल बुलाने के हक में नहीं हैं। कैबिनेट बैठक के लिए कई विकल्पों को शामिल कर प्रस्ताव तैयार किया है। इसके तहत दिसंबर में पहली से आठवीं कक्षा तक शीतकालीन स्कूलों में परीक्षाएं करवाने की योजना है।
प्रस्ताव में कहा गया है कि फर्स्ट और सेकेंड टर्म की परीक्षाओं के आधार पर पहली से आठवीं कक्षा का रिजल्ट तैयार किया जाएगा। प्रस्ताव मंजूर होने से जनवरी और फरवरी में भी पहली से आठवीं कक्षा की कक्षाएं लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। विद्यार्थियों को हर वर्ष असेसमेंट आधार पर ही पास किया जाता है। राइट टू एजूकेशन एक्ट के चलते इन कक्षाओं में विद्यार्थियों को फेल नहीं किया जाता है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।