जिला में आने वाले सभी पर्यटकों और श्रद्धालुओं की जा रही है टैस्टिंग – पंकज राय #news4
July 27th, 2021 | Post by :- | 134 Views

बिलासपुर 27 जुलाई – कोविड-19 के संबंध में हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय द्वारा पारित आदेशों की अनुपालना सुनिश्चित करने तथा सभी आवश्यक प्रबंधों की समीक्षा करने हेतु उपायुक्त पंकज राय ने जिला स्तरीय निगरानी समिति का गठन किया गया है। इस समिति द्वारा कोविड-19 से संबंधित सभी मुद्दों की समीक्षा प्रतिदिन की जा रही है।

माननीय उच्च न्यायालय के मापदण्डों के अनुसार कोरोना की रोकथाम के लिए हर सम्भव उपाय किए जा रहे
उपायुक्त पंकज राय ने कहा कि माननीय उच्च न्यायालय के मापदण्डों के अनुसार कोरोना की रोकथाम के लिए हर सम्भव उपाय किए जा रहे है जिसके अनुसार हर पर्यटक और श्रद्धालुओं खासकर श्री नैना देवी मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं की टैस्टिंग की जा रही है। इसके अतिरिकत पर्यटकों से आग्रह किया है कि वे कोरोना से बचाव के लिए मास्क लगा कर रखें अन्यथा उनके टैस्टिंग के साथ चलान भी किए जाएंगे।

उपमण्डल स्तर पर निरंतर की जा रही टैस्टिंग
उन्होंने बताया कि स्वारघाट के 153, स्वाहन और कैंचीमोड के 37, बेहल के 61, टोबा के 39, सलोआ और कन्फारा के 112, भाखडा, खुल्मी और माकड़ी के 118 सैंपल की जांच की जा चुकी है।
उन्होंने बताया कि निर्धारित लक्षित जनसंख्या में से राष्ट्रीय राजमार्ग (ढाबा, रेस्टोरेंट तथा होटलों) के 163, श्री नैना देवी जी मंदिर के 386, एसडीएम कार्यालय तथा वहां आने वाले आगंतुकों के 51 सैंपल, राज्य (गरमोड़ा और स्वारघाट) में आने वाले पर्यटकों के 205 सैंपल, दबट रेलवे के श्रमिकों के 101 सैंपल, मजारी सब्जी मण्डी के श्रमिकों के 25 सैंपल, ग्वालथाई औद्योगिक क्षेत्र में 186 सैंपल, मैक्स इंफ्रा रेवले जंडोरी के श्रमिकों के 47 सैंपल, कांगुवाली साईट रेल के श्रमिकों के 41 सैंपल तथा गुरू का लाहौर 5वीं महिला बटालियन के 30 सैंपल लिए गए है।
उन्होंने बताया कि घुमारवीं में अभी तक मार्किट में कोविड-19 के 430 सैंपल की जांच की गई है। इसके अतिरिक्त अब तक ढाबा, रेस्टोरेंट मालिक, होटलो

पंकज राय ने कहा कि सरकार ने कोरोना कफ्र्यू में कई रियायतें दी हैं, लेकिन कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए प्रत्येक व्यक्ति द्वारा कोरोना अनुरूप व्यवहार नितांत आवश्यक है। उन्होंने सभी उपमण्डाधिकारियों, तहसीलदारों और सैक्टर आॅफिसरों को निर्देश दिए कि अपने-अपने क्षेत्रों, कार्यस्थलों और कार्यालयों में मास्क के प्रयोग, हाथों की निरंतर स्वच्छता और आपस में पर्याप्त दूरी जैसी सावधानियों को सख्ती से लागू करने तथा समय-समय पर औचक निरीक्षण करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि इनमें कोई भी लापरवाही नहीं होनी चाहिए। उन्होंने पुलिस विभाग से कहा कि मास्क न पहनने वाले व्यक्तियों का चालान करें।

ये सभी रहे उपस्थित
बैठक में एडीसी तोरूल रवीश, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. प्रकाश दरोच, डीआरओ देवी राम सहित अन्य विभागों के अधिकारियों उपस्थित रहे।
.0.

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।