एक मंत्री जिनकी पोती तक के लिए हेलिकॉप्टर …. सरकारी खर्चे पर…
September 15th, 2020 | Post by :- | 74 Views

प्रदेश की जयराम सरकार जनता के लिए जितनी दमनकारी साबित हुई है, उससे कहीं अधिक इनके कुछ मंत्री अपने एसोआराम के लिए जनता के धन को दिनरात कचोचने में लगे हुए हैं। कुछ खास मंत्री हैं जिन्हें कुछ भी करने की छूट है।

पार्टी तक में कोई दूसरा अगर ऐसा करे, तो तुरंत इस्तीफा ले लिया जाता है, मगर मुख्यमंत्री और उनके एक मंत्री को हर चीज माफ सी है।

एक मंत्री जिनकी पोती तक के लिए हेलिकॉप्टर आता है, सरकारी खर्चे पर…
जिनकी बेटी के लिए सरकारी खर्चे पर गाड़ियां चलती हैं…
जिनके बेटे के लिए सरकार गाड़ी खरीद दी जाती है और सरकारी खर्चे पर ही चलती है…

दुनिया जाए भाड़ में, इनकी सरकार है, इनकी बात मुख्यमंत्री तक नहीं टाल सकता, मनमानी तो चलेगी ही..

गरीब के लिए एंबुलेंस मिले या न मिले क्या फर्क पड़ता है, इनकी पोती के लिए तो हेलिकॉप्टर आ रहा है न..

ताजा मामले में लगभग 27 लाख रुपये की एक गाड़ी अधिशाषी अभियंता (आईपीएच) के नाम पर खरीदी गई और यह गाड़ी इन मंत्री के पुत्र को दे दी गई। अकसर समारोहों में इन्हें इस गाड़ी में देखा जा सकता है।

गरीब के नलके के लिए इनके विभाग के पास 15 रू की टूटी नहीं है मगर मंत्री और उसके परिवार की ऐस के लिए लाखों करोड़ों खर्च करने के लिए बजट है।

केंद्र सरकार की जल जीवन मिशन योजना से 27 लाख की एक टोयोटा गाड़ी और दो बोलेरो गाड़ियां खरीदने के लिए 40 लाख से भी अधिक खर्च किए गए हैं। ताजा आरोप लग रहा है कि इनमें से एक महंगी टोयोटा गाड़ी जलशक्ति मंत्री के बेटे द्वारा इस्तेमाल की जा रही है।
आरटीआई एक्टिविस्ट भूपेंद्र ठाकुर ने इस सारे खेल का पर्दाफाश किया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।