शिमला में सेब सीजन के लिए पुलिस ने तैयार किया नया ट्रैफिक प्लान, कल से होगा लागू, पढ़ें खबर
July 14th, 2020 | Post by :- | 359 Views

सेब सीजन के लिए शिमला पुलिस ने नया ट्रैफिक प्लान तैयार कर लिया है। इसे बुधवार से लागू कर दिया जाएगा। सीजन में सड़कों पर यातायात व्यवस्था बढ़ जाने के बाद पुलिस सभी ट्रकों को एक साथ मंडियों में प्रवेश की इजाजत नहीं देगी। सेब लेकर मंडियों व बाहरी राज्यों को जाने वाले बड़े ट्रालों को दिन के समय प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी। रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक ही ये ट्राले चलेंगे। पुलिस का तर्क है कि बड़े ट्रालों के चलने से जगह जगह जाम लगता है जिससे लोगों को खासी दिक्कतें पेश आती है। इसलिए इनका समय रात 11 बजे के बाद तय किया गया है। शहर से कोई भी ट्रक प्रवेश नहीं कर पाएगा। शोघी बाईपास से ही ट्रकों को बड़ागांव व मैहली होते हुए सीधे ढली भेजा जाएगा। बड़े ट्रालों को ठियोग से पहले रोक लिया जाएगा।

ठियोग मशोबरा भेखल्टी मार्ग होगा वन-वे

पुलिस ने ठियोग मशोबरा भेखल्टी मार्ग को वन वे कर दिया है। इस सड़क पर केवल खाली वाहनों के ही जाने की अनुमति होगी। पुलिस का कहना है कि छराबड़ा में जब ट्रकों को टोकन नंबर के लिए रोका जाता है तो ट्रक चालक इस मार्ग से मंडियों में आते हैं। इस लिए इसे वन वे किया गया है ताकि जगह जगह जाम न लगे। पुलिस के 200 जवान सेब सीजन में ड्यूटी देंगे। ये जवान मंगलवार शाम को शिमला पहुंच गए हैं। पुलिस ने सेब सीजन के लिए जिला में 6 कंट्रोल रूम बनाए हैं। ये भी मंगलवार से ही शुरू हो जाएंगे। शोघी और फागू में मुख्य कंट्रोल रूम बनाया गया है। इसके अलावा बलग, कुड्डू, गुम्मा, नेरवा के फैडिज पुल में कंट्रोल रूम स्थापित किए गए हैं।

छराबड़ा में मिलेगा ट्रकों को टोकन

पुलिस ने उपरी शिमला से आने वाले वाहनों की चैङ्क्षकग के लिए छराबड़ा में बैरियर बनाया है। यहां पर हर ट्रक को टोकन नंबर दिया जाएगा। टोकन नंबर के आधार पर ही ये ट्रक मंडियों में प्रवेश करेंगे। मंडियों से समन्वय स्थापित किया जाएगा ताकि मंडी व सड़क पर ट्रकों की वजह से जाम न लगे। पुलिस मशोबरा के समीप भी बैरियर बनाएगी जहां पर वाहनों को चैक किया जाएगा।

बलग होकर सीधे सोलन जाएगी गाडिय़ां

पुलिस ने कोटखाई, जुब्बल, रोहड़ू सहित उपरी शिमला से आने वाले ऐसे वाहन जो सोलन और चंडीगढ़ की मंडी में जाना चाहते हैं उन्हें शिमला होकर नहीं आने देगी। पुलिस चालकों को बताएगी कि वह वाया बलग होकर सोलन जाए इससे उनका समय भी बचेगा और वह शहर में लगने वाले जाम से भी बच सकेंगे।

केवल सैंपल के लिए ही उतरेगा माल

मंडियों में सेब की गाडिय़ों को उतारने में काफी समय लग रहा है। एक दिन में 200 से 250 तक गाडिय़ों ही अनलोड की जा रही है। ऐसे में जब तक एक गाड़ी खाली नहीं हो जाती, दूसरी गाड़ी मंडी में नहीं लग पा रही है। इस पर निर्णय लिया गया कि जिन आढ़तियों के पास अपने गोदाम है, उन्हें गोदाम में ही गाडिय़ों को सीधे अनलोड करने के लिए कहा जाएगा। इसके अलावा मंडी में केवल सैंपल के लिए वह सेब की कुछ पेटियां लेकर आएंगे। इसमें अब पुलिस उन आढ़तियों से बात करेगी, जिनके पास अपने सेब के गोदाम हैं।

सेब सीजन के लिए कंट्रोल रूम स्थापित कर दिए गए हैं। बड़े वाहनों को शहर से आने की अनुमति नहीं होगी। कई तरह के बदलाव किए गए हैं जिन्हें बुधवार से लागू कर दिया जाएगा। -ओमापति जमवाल, एसपी शिमला।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।